अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है- Abhee Mere Dimaag mein kya chal raha hai

Sim & Call Details के लिए Join करें👉 Join Now

अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है- abhee mere dimaag mein kya chal raha hai -:

आपके मन में कभी ना कभी यह सवाल जरूर उठा होगा की अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है यह सवाल लगभग हर किसी के मन में चलता है कि अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है या तो अपने दोस्त फ्रेंड या भाई बहन से हम लोग पूछते हैं कि बताओ जरा अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है

तो इसका जवाब देना थोड़ा सा कठिन हो जाता है लेकिन आज के इस पोस्ट में मैं आपको इस सवाल का जवाब दे दूंगा और आपको आसानी से किसी दूसरे के मन में क्या चल रहा है इस प्रश्न का जवाब देने में बहुत ही ज्यादा आसानी होगी

इसी सवाल का जवाब देने के लिए मैंने NEW LIFE यूट्यूब चैनल की एक वीडियो को लिया जिसमें की बहुत ही अच्छी तरीके से समझाया गया है

But friends, we often ask our friends, close brothers , what is going on in your mind and what you are interested to know, either you ask them what you want, then your friends and close brothers and people easily Tell me what’s going on in my mind

लेकिन सवाल उलट दिया जाए कि बताओ जरा मेरे मन में क्या चल रहा है तो ऐसे प्रश्न का जवाब देना उनके लिए भारी पड़ सकता है लेकिन इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप इस सवाल का जवाब बहुत ही आसानी तरीके से किसी को भी मात्र कुछ ही मिनटों में दे सकते हैं

लेकिन दोस्तों आप यह सवाल आ करके गूगल पर क्यों पूछ रहे हो इसके पीछे कोई न कोई कारण जरूर होगा कि आपकी कोई दोस्त मित्र आपसे यह सवाल जरूर क्यों होंगे आपको मैं एक अपनी घटना बताता हूं जो कि इसी से रिलेटेड है तो इसे आप लोग ध्यान से पढ़िए गा

एक बार की बात है हम और हमारे मित्र एक पार्टी में थे तभी वहां पर कुछ सामानों की कमी पड़ती है हम सभी मित्रों के पास पैसे की कमी थी लेकिन आपस में ही झड़प हो गई कि समान तुम लाओगे वह बोला सामान तुम लाओगे और एक दूसरे में उलझ गए

तभी मेरा एक दोस्त बोला कि मैं जानता हूं कि अभी तुम्हारे मन में क्या चल रहा है तुम सिर्फ यहां पर खाने आए हो पैसे नहीं दोगे तुम बहुत बड़े कंजूस हो इस प्रकार से सवाल उठाने लगे इससे थोड़े समय के लिए मुझे बहुत बुरा लगा लेकिन फिर नॉर्मल सा हो गया

और फिर एक बार हम आपस में मिल गए और हंसने लगे बोला कि हम तो ऐसे ही मजाक कर रहे थे तभी से यह सवाल मेरे मन में था कि अभी मेरे मन में क्या है वह कैसे जान जाते हैं या तो कई प्रकार ऐसे ही प्रकार के सवाल हमारे मन में उठते रहते हैं जिसको आज मैंने इस पोस्ट में अच्छे तरीके से लिख डाला है

तो दोस्त आपके साथ भी कोई ऐसी घटना हुई है तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताना ताकि मैं आपके साथ जो भी घटना हुई है मैं उसे देख सकूं और अपने साथ में आपको डिलीट कर पाऊं और यदि कोई क्वेश्चन होगा तो भी पूछ लेना मैं आपका जवाब जरूर दूंगा

तभी से यह सवाल मुझे लगा कि और लोगों को जानना चाहिए कि दूसरों के मन में क्या चल रहा है क्योंकि जब किसी से नोकझोंक होती है या तो नॉर्मल लोगों से बातचीत में वो पूछते हैं कि बताओ मेरे मन में क्या चल रहा है या तो होता है कि आपको जानने की इच्छा कि आखिरकार उसके मन में क्या चल रहा है कैसी बातें सोच रहा है तो आप लोग निश्चिंत हो जाइए इस पोस्ट को लास्ट तक पढ़ते रहिए

🤣😊लगता है कि आपने भी हमारी तरह सोचा कि आप क्या सोच रहे हैं या तो अभी मैं क्या सोच रहा हूं इसीलिए आप भी गूगल पर सर्च कर रहे हैं तो चलिए स्टार्ट करते हैं अपनी हम इस पोस्ट को और आपको हम बताते हैं😍😊

जैसे कुछ लोग सर्च करते हैं

  • अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है बताएं ?
  • क्या चल रहा है तुम्हारे मन में ?
  • अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है बताओ जरा ?
  • किसी के मन में क्या चल रहा है कैसे जाने ?
  • अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है गूगल ?
  • आपके मन में क्या चल रहा है ?
  • अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है बताना जरा ?
  • अभी मेरे मन में क्या चल रहा है ?

मैंने भी कई ढेर सारे ऐसे क्वेश्चंस को पढ़ा और यूट्यूब पर सर्च किया गूगल पर सर्च किया और कुछ बुक्स को पढ़ा मैंने बहुत ढेर सारे वैज्ञानिक शोध को देखा और कुछ साइकोलॉजि की चीजों को अध्ययन किया और मैं एक गहरी अध्ययन करने के पश्चात या पोस्ट लिखने बैठा कि आज मैं इस सवाल का जवाब दे दूंगा और जितने भी लोग हैं उन्हें बहुत ज्यादा पढ़ने की आवश्यकता ना पड़े इस संक्षिप्त पोस्ट में ही उनको बहुत कुछ सीखने को मिल जाएगा

अभी मेरे मन में क्या चल रहा है यह सवाल क्यों उठा

दोस्तों आपके सवाल का जवाब देने से पहले मैं बता दूं कि आपके मन में यह सवाल आखिरकार के उठ गया और इसके पीछे की कहानी क्या हो सकती है मैं आपको बताता हूं अपनी साइकोलॉजि सोच बुद्धि के अनुसार

  1. हो सकता है आप किसी उलझन में हो
  2. आप गूगल से मजे लेने के लिए पूछ रहे हो
  3. आप दूसरों के मस्तिक में क्या चल रहा है यह जानने के लिए
  4. आप ए जानने की इच्छुक होंगे कि गूगल क्या बता सकता है मेरे माइंड में क्या चल रहा है
  5. आप सोच रहे होंगे कि योग साधना के द्वारा कैसे पता करें 
  6. अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है यह आप जानने की इच्छुक होंगे कि इसके पीछे वैज्ञानिक दृष्टिकोण क्या है

अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है-  संदीप माहेश्वरी  के अनुसार

दोस्तों संदीप महेश्वरी जी के अनुसार अभी हमारे दिमाग में क्या चल रहा है इन सब सभी सवालों के जवाब दिए और वह बताते हैं कि यदि आपके मन में ऐसे सवाल उठ रहे हो तो आपको अपने मस्तिक को संतुलन बनाए रखना है और उससे थोड़ा सा  सोचना है

या तो आपके मन में अच्छे विचार चल रहे होंगे या तो बुरे विचार चल रहे होंगे थोड़े धैर्य के साथ करेंगे तो कुछ समय पश्चात वह कार्य बहुत ही ज्यादा अच्छा होगा और आपको उसका परिणाम भी बहुत ही अच्छा मिलेगा और अपने दिमाग को काबू में रख सकते हैं

इसीलिए मैंने दोस्त एक संदीप महेश्वरी जी की वीडियोस दे रहा हूं जिसे आप लोग ध्यान से देखेगा और बिना कट किए शुरू से लास्ट तक देखते रहिएगा आपको बहुत ज्यादा जानकारी मिलेंगे और आपका दिल खुश हो जाएगा

अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है- abhee mere dimaag mein kya chal raha hai

दोस्तों हमेशा दोस्तों हमेशा आपको अपने विचारों को काबू में रखना है क्योंकि आदि आप अपने विचारों को काबू में रख सकते हैं तो आपके मस्तिक का संतुलन बना रहता है क्योंकि कई बार मैंने ऐसा देखा है कि कुछ लोग अपने मस्तिक का संतुलन खो देते हैं और अपने विचारों को भी कहीं ना कहीं गलत सोचने लगते हैं जिस कारण से वह गलत फैसला लेने का निर्णय कर लेते हैं लेकिन दोस्त आपको कभी भी ऐसा नहीं करना है

दोस्त अभी तक आप सोच रहे होंगे कि हम क्या सोच रहे हैं अभी मैं क्या सोच रहा हूं तो आपको थोड़े समय के लिए शांत हो जाना है और माइंड को अपने एकदम रिलैक्स शांत मुद्रा में छोड़ देना है उस समय आपके दिमाग से जो भी विचार आएंगे बहुत ही अच्छे विचार आएंगे

क्योंकि शांत दिमाग से सोचा हुआ हर वाक्य अच्छा होता है तो आप लोग जो भी डिसीजन लिया करिए एक बार उसे शांत दिमाग में सोच लिया करिए अक्सर देखा जाता है कि शांत दिमाग सुबह के समय होता है तो आप अक्सर करके कोई बड़ा डिसीजन सुबह के वक्त ही लिया करिए

आपके लिए अन्य आर्टिकल  

                                                   👇👇👇यह भी पढ़ें-👇👇👇

अंधभक्त किसे कहते है ? गोबर भक्त किसे कहते हैं ? भक्त और अंधभक्त में अंतर andhbhakt kise kahate hain

दूसरों के मन की बात कैसे जाने

दोस्तों आपने कभी ना कभी यह जरूर यह सोचा होगा कि हम दूसरों के मन की बात कैसे जानेंगे तो आपको चिंता करने की कोई बात नहीं है हम आपको ऐसे ही तरीके बताएंगे कि आप दूसरों के मन की बात को जान जाएंगे और आपके मन में जो भी सवाल उत्पन्न होंगे

आप उसके पूछने से पहले ही आप उसे बता देंगे और यह भी जान जाएंगे कि या व्यक्ति हमसे कितना लगाव रखता है या कितना दूरी बनाकर रखता है या हमसे यह व्यक्ति क्या चाहता है यह सब आप उसके मन की बात को आप जान जाएंगे

लेकिन उसके मन की बात जानने से पहले मैं आपको बता दूं कि आपकी कुछ सोचने की क्षमता होनी चाहिए कुछ अनुमान लगाने की क्षमता होनी चाहिए क्योंकि यहां पर दूसरों के माइंड के साथ खेलना है यदि आप थोड़ा सा सोचने में कमजोर होंगे तो प्रॉब्लम आ सकती है

आपको जानने के लिए मैंने  Vedic Science युटुब चैनल की एक वीडियो ली जिसमें की कुछ इमेज के द्वारा आपको बहुत ही सरल शब्दों में समझाया गया है

अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है- abhee mere dimaag mein kya chal raha hai

क्योंकि आप हो सकता है कि उसके बारे में गलत सोच ले कि वह चीज को गलत सोच रहा है बंदा तो आपको अपनी सूझबूझ को ध्यान में रखना जरूर पड़ेगा लेकिन ऐसा भी मत आप सोचिए गा कि हम बहुत एक्सपोर्ट होंगे तभी जान पाएंगे ऐसा कुछ भी नहीं होगा आप एक साधारण लोग होंगे तब पर भी आप जाग जाएंगे

तो चलिए दोस्तों आपको मैं बताता हूं कि आप दूसरों के मन की बात कैसे जानेंगे

दोस्तों आपने कभी न कभी अपने मित्र से बात करते समय या देखा होगा कि कभी-कभी दोनों लोग एक साथ बोलने लगते हैं लेकिन उनमें से एक दूसरे की बात एक दूसरे नहीं सुन पाते हैं और उलझ जाते हैं जिस प्रकार से एक दूसरे की बात सुनने के लिए आपको यदि आपका मित्र बोल रहा है तो आप को शांत होना पड़ेगा

ठीक उसी प्रकार से आप बोल रहे हैं तो आपका मित्र शांत होगा तभी एक दूसरे की बात को समझ पाएंगे और सुन पाएंगे अर्थात या का सकते हैं कि एक बोलेगा तो एक सुनेगा और दूसरा बोलेगा तो वाला व्यक्ति सुनेगा या नहीं कह सकते हैं कि एक दूसरे के विपरीत होने चाहिए

यदि दोनों लोग शांत हो जाएंगे तो कोई बोलेगा नहीं कुछ सुनाई नहीं देगा अभी दोनों बोलेंगे तो कुछ भी समझ में नहीं आएगा

ठीक उसी प्रकार से यदि आप किसी दूसरे व्यक्ति की दिमाग को पढ़ना है तो आपको मस्तिक को चुप करना होगा अर्थात कहने का मतलब है कि अपने मस्तिष्क को शांत करना पड़ेगा और दूसरे व्यक्ति की मस्तिक को सुनना पड़ेगा अर्थात उस व्यक्ति के मस्तिक में क्या चल रहा है उसे जानना होगा

अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है
अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है

यह जानने के लिए आपको उसकी बातों को ध्यान देना होगा कि वह व्यक्ति क्या बोल रहा है उसके बोलने का क्या मतलब है और उसी के आधार पर आपको उसकी मस्तिष्क को पढ़ना होगा और उसके मस्तिक में क्या चल रहा है

सिर्फ उसके बोलने से ही आप उसके मस्ती को नहीं पढ़ पाएंगे आपको उसके बोलने के साथ-साथ उसके जो आंखें हैं वो आंखें की और आपको बहुत ध्यान से देखना होगा कि आंखें कहीं इधर-उधर भटक तो नहीं रही है क्योंकि इस समय वह व्यक्ति यदि इधर-उधर भटकता है तो वह लगभग झूठ बोलने की कगार पर ही होता है तुरंत आप समझ जाएंगे कि व्यक्ति झूठ बोल रहा है

इतना ही नहीं आपको उस व्यक्ति की शारीरिक हावभाव को भी ध्यान से देखना होगा क्योंकि गलत बोलते समय व्यक्ति अपने शरीर को हमेशा इधर-उधर झटके रहता है यदि वह व्यक्ति सही बोल रहा है तो वह एक शांत दिमाग से बोलता है

इस तरीके से उस व्यक्ति के हावभाव बोलने के तरीके आंखों के कुछ इशारे से पता कर सकते हैं कि वह व्यक्ति के बोलने का आगे क्या विचार है वह व्यक्ति हमें किस प्रकार से अगला शब्द बताने वाला है ठीक उससे पहले ही आप समझ चुके होंगे कि यह व्यक्ति हमें आगे चलकर के कैसे बताएगा या तो हो सकता है कि आपको कैसे उलझन में डालेगा

दूसरों के दिमाग को कोई भी व्यक्ति एक दिन में नहीं पढ़ सकता मेरा कहने का मतलब है कि आपको दूसरों के दिमाग पढ़ने के लिए कई बार अभ्यास करने की आवश्यकता होगी धीरे-धीरे आप इन सब चीजों में एक्सपर्ट हो जाएंगे तब किसी भी व्यक्ति को आपके सामने खड़ा करने पर दो से तीन में आप बता सकते हैं कि यह व्यक्ति कैसा है कैसा है इसका रहन-सहन है कैसे उसका व्यवहार है कैसा इसका बातचीत करने में है यह सब आप बहुत ही अच्छे तरीके से जान जाएंगे

लेकिन अभी आपको दूसरों के दिमाग पढ़ने में कोई भी प्रॉब्लम आ रही है तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर सूचित करें कि हमें इस व्यक्ति को दिमाग पढ़ने में या दिमाग को समझने में थोड़ी सी यहां पर प्रॉब्लम आ रही है हमें बताएं तो मैं आपके कमेंट का जरूर रिप्लाई दूंगा और मैं हर एक कमेंट का हमेशा रिप्लाई देता रहता हूं तो आपके मन में जो भी क्वेश्चंस हो आप हमें पूछ सकते हैं मैं आपके सवाल का जवाब जरूर दूंगा

किसी के दिमाग को कैसे पढ़ें?

दोस्तों किसी के दिमाग को पढ़ने के लिए सबसे पहले आपको अपने मन को शांत करना पड़ेगा अपने दिमाग को पढ़ना पड़ेगा

क्योंकि आप अपने दिमाग को जब से नहीं पढ़ पाएंगे तब से आप दूसरों के दिमाग को पढ़ने में सक्षम नहीं हो पाएंगे इसलिए पहले अपने दिमाग को थोड़े समय के लिए शांत करना पड़ेगा आपके दिमाग में जो भी अन्य तरीके से विचार आ रहे होंगे उस विचारों पर आप को काबू करना होगा जैसे ही आप काबू कर लेंगे आप अपने दिमाग को शांत कर लेंगे आप अपने दिमाग पर अच्छी तरीके से हावी हो जाएंगे

तब जाकर के आप दूसरों के दिमाग को पढ़ पाएंगे अर्थात कहने का मतलब कि आप एक साइकोलॉजिस्ट बन पाए जाएंगे

लेकिन मैं आपको कुछ सूचित कर दूं कि आज के समय में बहुत ढेर सारे आडंबर आ चुके हैं कि मैं आपके दिमाग को पढ़कर के सच-सच बताऊंगा तो आप लोग इन सब चीजों में ना पड़े क्योंकि वह आपसे सिर्फ पैसे के कारण करते हैं कि मैं इनके दिमाग को पढ़ लूंगा तो मुझे कुछ पैसे देंगे ऐसा कुछ भी नहीं होता है

लेकिन एक हद तक किसी के व्यक्ति के दिमाग को पढ़ा जा सकता है अर्थात कहने का मतलब हमारा यह है कि उस व्यक्ति की सोचने की छमता क्या है वह व्यक्ति कैसा वर्क करने वाला है वह व्यक्ति हमारे प्रति क्या सोचता है इन सब प्रश्नों के जवाब आप उसी व्यक्ति से पा जाएंगे क्योंकि होता है

कि उस व्यक्ति के साथ आप जब रहने लगते हैं तो आप उस व्यक्ति की हर चीजों को आप जान जाते हैं हर चीजों को आप महसूस कर पाते हैं

लेकिन अभी तक कुछ लोग सोच रहे होंगे कि यदि हम उस व्यक्ति के साथ नहीं रहते हैं नहीं उठते बैठते हैं तो क्या हम उसके दिमाग को पढ़ लेंगे तो मैं बता दूं कि हां आप उस दिमाग को आप पढ़ लेंगे लेकिन आपको उस व्यक्ति के बारे में कुछ न कुछ जानकारी जरूर होनी चाहिए

आप बिना जानकारी के उस व्यक्ति के बारे में कुछ भी नहीं जान सकते हैं लेकिन कुछ आप जरूर जान सकते हैं उसके शरीर के रहन-सहन से उसके आंखों की नजर से उसके चेहरे के हाव-भाव से ए जान पाएंगे कि व्यक्ति कैसा हमारे साथ व्यवहार करने वाला है

लेकिन आज के समय में कुछ ऐसे पुरुष या कुछ लोग आडंबर फैलाने वाले होते हैं कि सिर्फ नाम बताने से ही उसके बारे में सब कुछ बता देते हैं तो आज के समय में ऐसा कुछ भी नहीं होता है सिर्फ सिर्फ आपको भ्रम में डालते हैं

यदि आपको किसी के दिमाग को पढ़ना है तो सबसे पहले उस वह कहीं ना कहीं कुछ शब्दों को झूठ बोलने वाला होता हैसे कुछ मिनट आप उनसे बात करिए और उनसे बात करते समय अपने मस्तिक को एकदम शांत रखेगा सिर्फ उनकी बातों पर ध्यान से सुनिए गा

और उनकी बातों में देखते रहिएगा कि व्यक्ति हम से कैसे बात कर रहा है और अपनी आंखों की नजर से हमसे मिला पा रहा है कि नहीं यदि वह व्यक्ति नजर नहीं मिला पता है तो कहीं ना कहीं हमसे वह व्यक्ति झूठ बोलने वाला होता है

क्योंकि अक्सर देखा गया है कि वह व्यक्ति अगला व्यक्ति यदि आप से आंख ना मिला करके बात करता हो तो वह व्यक्ति अगल-बगल देख कर के अपने माइंड में कुछ मनगढ़ंत बातें को सोचने लगता है और अपनी आंखों से भी भटकाने लगता है जिसका आज से वह व्यक्ति झूठ बोलने वाला ही होता है

तो आपको सबसे पहले उसके बोलने के ढंग को उसके आंखों को और उसके चेहरे के हाव-भाव को देखना चाहिए कि व्यक्ति के चेहरे पर कैसा भाव उत्पन्न हो रहा है यदि उसके चेहरे का भाव बहुत शांत हो तो समझेगा कि व्यक्ति आगे जो बोलेगा वह सच बोलेगा लेकिन यदि व्यक्ति बहुत ज्यादा गंभीर में चेहरा हो तो समझ जाएगा कि या तो व्यक्ति आपसे झूठ बोलेगा या तो वह व्यक्ति संकट में ही होगा

इन सब तरीकों से आप दूसरों के दिमाग को पढ़ सकते हैं और समझ सकते हैं

मन की बात जानने का मंत्र

दोस्तों आज के समय में दूसरों की मन की बात जानने का मंत्र बहुत ढेर सारे आ चुके हैं जैसे कि कई किताब देखेंगे तो इस बारे में होती है कि आप दूसरों की मन की बात जानने के मंत्र के बारे में बताते हैं और उन शब्दों को उच्चारण करने के लिए बोलते हैं

ताकि आप दूसरों के मन की बात जान पाए इसी तरह आज के समय में हमारे समाज में बहुत ढेर सारे कोई बाबा लोग आ चुके हैं जो कि कुछ तो हद तक ठीक होते हैं लेकिन कुछ अपनी हद की सीमा पार कर चुके होते हैं और वह तंत्र मंत्र से किसी के दूसरे की मन की बात बताने लगते हैं

और अक्सर यह देखा गया है कि परिवार में एक दूसरे के प्रति जानने के लिए मंत्र का उपयोग बाबाओं के माध्यम से पूछा जाता है वह भी परिवार में अधिकतम पति और पत्नी के बीच में एक दूसरे की प्रति मन की बात जानने की इच्छा रहती है और वह अपने में ज्यादा विश्वास ना करके इन बाबाओं पर विश्वास करते हैं

और यही कारण है कि आज के समय में बहुत ढेर सारे पत्नी पत्नियों में अक्सर करके झगड़े कला होता रहता है कि आप हमारे बारे में गलत सोच रहे हैं या तो आप हमसे कहीं दूर किसी और को आप चाहते हैं

तो दोस्तों आपको मैं बता दूं कि आप लोग कभी भी इन सभी चक्रों में मत पढ़िए गा क्योंकि वह सिर्फ कुछ आपसे पैसे लेने के लिए करते रहते हैं और उनकी धंधा चलता रहता है

आप जानते ही होंगे कि एक पति कैसा क्वेश्चन पूछ सकता है और एक पत्नी उसी बाबा से कैसे क्वेश्चन पूछ सकते हैं यह हमें बहुत खुल करके बताने की आवश्यकता नहीं होती है

अभी व क्वेश्चंस इन बाबाओं से पूछा जाता है तो वह जान जाते हैं कि आखिर का हमसे एक क्वेश्चन से पति क्यों कर रहा है कुछ ना कुछ आपस में जरूर विवाद होगा तभी तो इक्वेशंस हमसे पूछ रहा है उसी के आधार पर हुए एक दूसरे के विरुद्ध बताते रहते हैं

यदि कोई पति सिर्फ हम से आकर के पूछे तो मैं भी बता सकता हूं कि आपकी वाइफ आपके बारे में क्या सोचती है और दूसरों के साथ कैसा संबंध रखती है यह सिर्फ एक अंदाज होता है और ऐसे अंदाज हमेशा सही ही होते हैं क्योंकि वह व्यक्ति अक्सर करके उसी समस्याओं से जूझ रहा होता है और वही समस्या लेकर आता है तो उसका उत्तर लगभग वही ही रहता है यह मैं गारंटी के साथ कह सकता हूं

क्योंकि मैंने अपने एक मित्र की पत्नी इसी के चक्कर में हो करके अपने पति से हमेशा झगड़ा करती रहती है वह एक बाबा के चक्कर में ऐसे क्वेश्चन से लेकर गई और बाबा सिर्फ एक अनुमान के आधार पर उसे भ्रम में डाल दिए हैं जिस कारण से आज के समय में उनकी संबंध बहुत ही ज्यादा खराब हो चुके हैं

का है कि वह एक दूसरे के साथ अब कभी नहीं रहेंगे अर्थात एक दूसरे को छोड़ने के लिए तैयार हो गए हैं तो आप लोगों से मेरी एक प्रार्थना है कि आप कभी भी इन सब चीजों में ना पड़े तो ही ज्यादा अच्छा रहेगा और एक दूसरे पर विश्वास करें

नहीं तो आप की बर्बादी तो निश्चित ही होगी यदि आप तंत्र-मंत्र के चक्कर में पड़ेंगे तो फिलहाल आपकी इच्छा है तो मैं नहीं रोक सकता लेकिन मेरा जहां तक का विचार था मैंने आपको बताने का पूरा का पूरा प्रयास किया

अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है , abhee mere dimaag mein kya chal raha hai

क्या बादाम खाने से दिमाग तेज होता है

अब तक आप सोच रहे होंगे कि क्या बादाम खाने से दिमाग तेज होता है क्योंकि आपने अक्सर लोगों के मुंह से सुना होगा कि अभी उसका दिमाग तेज काम नहीं करता है तो आप बादाम खाइए

या तो आप कभी अपने मित्र के साथ बात करते समय आपको मित्र यह जरूर कर दिया होगा कि तुम बादाम खाया करो तुम्हें कम समझ में आता है हो सकता है वह हंसी में कहें या हो सकता है वह सीरियस करें

या आपके साथ कभी कोई अन्य घटना हुई हो कि क्या बादाम खाने से दिमाग तेज होता है तो आज मैं इन सभी सवालों के जवाब दे दूंगा क्योंकि मैंने भी कई बार यह क्वेश्चन सुना कि क्या बादाम खाने से दिमाग तेज होता है तो इसी के कारण मैंने भी यूट्यूब पर गूगल पर फेसबुक पर इंस्टा पर बहुत ढेर सारे पोस्ट को पढ़ें और एक अच्छी सोच और ज्ञान के साथ में आपको यह सब चीजे बताने जा रहा हूं

डॉक्टर जगमीत कहते हैं कि बादाम खाने से दिमाग बहुत ही ज्यादा तेज होने लगता है और सोचने की क्षमता होती है वह भी बढ़ने लगती है लेकिन मैं आपको बता दूं कि बादाम खाने से सिर्फ दिमाग ही तेज नहीं होता है बल्कि उसके साथ साथ एलडीएल-कोलेस्ट्रॉल और एचबीए-1 सी के स्तर को भी बहुत ही आसानी से कम किया जा सकता है

तो दोस्तों आप लोग भी बादाम का सेवन करते रहिएगा क्योंकि मैंने अभी आपको बताया कि यह आपके दिमाग को एक अच्छी सोच प्रदान करता है जिससे अपने जीवन में आप अच्छे विचारों को सोच पाएंगे और एक सच्चे इंसान बन पाएंगे

दिमाग की साइकोलॉजी

आप कभी न कभी यह जरूर शब्द सुना होगा साइकोलॉजि का हाथी का साइकोलॉजी होता क्या है और यह कैसे वर्क करता है इतना ही नहीं या दिमाग के साथ साइकोलॉजी कैसे वर्क करता है तो इन सब प्रश्नों के जवाब आप ढूंढ रहे होंगे इंटरनेट की दुनिया में तो मैं आपको एक संक्षिप्त विवरण देने वाला हूं

दोस्तों आज के समय में दिमाग की साइकोलॉजि से दूसरों के दिमाग को जानने में बहुत ही ज्यादा आसानी होती है और सायकोलॉजी शब्द एक ऐसा शब्द है जो कि आपकी सोचने की क्षमता पर निर्भर करता है कि आपके माइंड में आप कैसी सोच रखते हैं और हिंदी भाषा में साइकोलॉजि को मनोविज्ञान कहा जाता है अर्थात मानव का विज्ञान

अब मनोविज्ञान तो आप कुछ समझ गए होंगे कि साइकोलॉजी क्या होता है अर्थात मनोविज्ञान में मानव कैसे रहता है कैसे सुनता है कैसे बोलता है कैसे पड़ता है आखिरकार उसके मन में क्या विचार उत्पन्न हो रहा है यानी कहते हैं कि एक व्यक्ति के बारे में जानकारी एकत्रित करना

साइकोलॉजी को समझने के लिए आप अपने दिमाग को हमेशा स्वभाव में रखना चाहिए क्योंकि यदि आपका दिमाग ही तमाम तरह के गलत चीजों पर जाने लगेगा तो आप साइकोलॉजी शब्द को महसूस नहीं कर पाएंगे और आप ही कहेंगे कि साइकोलॉजी कुछ भी नहीं होता है यह सब गलत चीजें होती है

मैं आपको बता दूं कि दूसरों के दिमाग को पढ़ना इतना आसान नहीं होता है लेकिन आप धीरे-धीरे अभ्यास करते चले जाएंगे तो कुछ ही दिनों में आप एक अच्छे खासे एक्सपोर्ट बन जाएंगे दूसरे के दिमाग पढ़ने के लिए क्योंकि यहां पर दूसरों के दिमाग के साथ-साथ अपने दिमाग को खेलना पड़ता है

अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है ,abhee mere dimaag mein kya chal raha hai

आप किसके बारे में सोच रही हैं?

आप अक्सर एक विश्वास जरूर सुने होंगे अपने मित्र सगे भाई बंधु या तो किसी और से कि आप किसके बारे में सोच रही हैं या तो आप आप ही हो सकते हैं पूछने वाले ए प्रश्न कि आप किसके बारे में सोच रही हैं तो आपको इस प्रश्न का जवाब हमेशा जानने के इच्छुक रहते हैं एक दूसरे की मन की बात को जानने के लिए और आपको बताते भी हैं कि हां हम इसके बारे में सोच रहे हैं

लेकिन कई बार यह भी देखा गया है कि आप किसके बारे में सोच रही हैं एक क्वेश्चन पूछने पर वे कहते हैं कि मैं किसी के बारे में नहीं सोच रही हूं लेकिन आपको पता होता है उनके शरीर के हाव भाव से उनके चेहरे से उनके आंखों से कि वह बंदा किसी के बारे में जरूर सोच रही है इसी कार से आप उनसे पूछते हैं

लेकिन यदि वह नहीं बताती हैं तो आप उनके साथ जिस से भी संबंध है यदि आप उनके बारे में जानते हैं या तो आप ही जानते हैं जिनके पीछे कोई कुछ घटना हुई है तो अधिकतर देखा गया है कि सब चीजों के बारे में भी सोचने लगते हैं या तो आप के साथ कोई ऐसी घटना हुई है जो कि हमेशा याद रहने वाली है तो जैसे ही आपको देखती हैं तो तुरंत घटना याद हो जाती है

अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है- abhee mere dimaag mein kya chal raha hai

Conclusion :-

दोस्तों मैंने आपको अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है या तो दिमाग कैसे तेज करें ऐसे कई ढेर सारे प्रश्नों के जवाब दिए जिसे आप लोगों ने बहुत ही अच्छी तरीके से पढ़ा और समझने का प्रयास किया

जिसको मैंने पूरी मेहनत के साथ इस पोस्ट को लिखा काफी ज्यादा रिसर्च करनी पड़ी फिर भी कुछ ऐसे प्रश्नों के जो छूट गए होंगे या तो कुछ ऐसे प्रश्न होंगे जो कि आपके मन में चल रहे होंगे और मैं उसका जवाब न दे पाया हो या तो कुछ ऐसे प्रश्नों के मैं जवाब जिससे आप पूरी तरह संतुष्ट नहीं है

तो आप लोग निश्चिंत हो कर के हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करें और मैं आपकी सवालों का जवाब जरूर दूंगा और चाहे जैसी भी आपके मन में प्रश्न उठे होंगे जो पूछेगा मैं सभी सवालों के जवाब देता हूं और आपके सवालों का भी जवाब दूंगा

Leave a Comment